Get all latest Chhattisgarh Hindi News in one Place. अगर आप छत्तीसगढ़ के सभी न्यूज़ को एक ही जगह पर पढ़ना चाहते है तो www.timesofchhattisgarh.com की वेबसाइट खोलिए.

समाचार लोड हो रहा है, कृपया प्रतीक्षा करें...
Disclaimer : timesofchhattisgarh.com का इस लेख के प्रकाशक के साथ ना कोई संबंध है और ना ही कोई समर्थन.
हमारे वेबसाइट पोर्टल की सामग्री केवल सूचना के उद्देश्यों के लिए है और किसी भी जानकारी की सटीकता, पर्याप्तता या पूर्णता की गारंटी नहीं देता है। किसी भी त्रुटि या चूक के लिए या किसी भी टिप्पणी, प्रतिक्रिया और विज्ञापनों के लिए जिम्मेदार नहीं हैं।
अजब-गजब छत्तीसगढ़: मृत शिक्षकों को मिली संक्रमित राज्यों से आने वाले लोगों की ज़िम्मेदारी, लॉकडाउन में जो फंसे हैं उनकी भी लगाई गई ड्यूटी

दुर्ग। लॉक डाउन 3 में जबसे केंद्र द्वारा कुछ छूट राज्यों को दी गई है तभी से बड़ी संख्या में लोग एक राज्य से दूसरे राज्य पहुंच रहें हैं ऐसे में प्रशासन इन लोगों पर पैनी नजर बनाए हुए है। लेकिन    छत्तीसगढ़ के दुर्ग में निगरानी के लिए जिला प्रशासन ने मृत शिक्षिकाें तक की ड्यूटी लगा दी है। वहीं लॉकडाउन के चलते दूसरे जिलों में फंसे शिक्षकों काे भी जिम्मेदारी दे दी है। गुरुवार को जब सभी 15 टीमें तय स्थानों पर पहुंची, तब इसका खुलासा हुआ।

दो साल पहले ही हो चुकी है शिक्षिका की मौत

रिसाली निगम के मरौदा क्षेत्र में बाहर से आने वालों को क्वारैंटाइन कराने के लिए अफसरों ने वहां की प्राथमिक स्कूल से रिटायर होने वाली शिक्षिका एस के हरदहा की ड्यूटी लगा दी। हालांकि उनकी मौत दो साल पहले ही हो चुकी थी। वहीं चार की टीम में जिन दो शिक्षकों को भिलाई के रूआबांधा क्षेत्र की जिम्मेदारी दी गई है। वे दोनों लॉकडाउन से दूसरे शहरों में फंसे है।

मृत शिक्षिका को आदेश रिसीव भी करा दिया

इस सूची को प्रशासन की ओर से 6 अप्रैल को जारी किया गया। इस पर 7 अप्रैल से कार्रवाई शुरू होनी थी। यह सूची मंडल, जिला और निगम स्तरीय 9 अधिकारियों के साथ ही मृत शिक्षिका सहित बाहर फंसे शिक्षकों को भी रिसीव करा दी गई। इस आदेश से अफसरों को अवगत कराने के लिए जो प्रतिलिपियां भेजी गई, उसमें 10 वें बिंदु पर सर्व संबंधित को सूचनार्थ एवं पालनार्थ लिखा है।

रिटायर्ड की भी ड्यूटी लगी थी, शिक्षा विभाग ने संशोधन किया

कोरोना के रोकथाम के लिए जारी इस महत्वपूर्ण आदेश में 6 अप्रैल तक तो करीब 6 रिटायर्ड और 3 स्थानांतरित शिक्षकों की भी ड्यूटी लगाई गई थी, लेकिन उसे 7 अप्रैल की डेट में शिक्षा विभाग ने संशोधित कर दिया। पहला आदेश अपर कलेक्टर की हस्ताक्षर से जारी हुआ था, दूसरा संशोधित आदेश जिला शिक्षा अधिकारी के हस्ताक्षर से जारी हुआ है।

-बीरेंद्र बहादुर पंचभाई, प्रभारी अपर कलेक्टर के अनुसार

बाहर से आने वालों को क्वारेंटाइन कराने के लिए शिक्षा विभाग के अफसरों ने शिक्षकों का डाटा दिया। जिम्मेदार अफसर बैठकर इस सूची को बनवाए। उसी के आधार पर स्वास्थ्य विभाग द्वारा सबको फिल्ड के काम की ट्रेनिंग भी दी गई। गुरुवार से सभी टीमों को फील्ड में भेजा जा रहा है।

Chhattisgarh से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें 

Facebook पर Like करें, Twitter पर Follow करें  और Youtube  पर हमें subscribe करें।

 

The post अजब-गजब छत्तीसगढ़: मृत शिक्षकों को मिली संक्रमित राज्यों से आने वाले लोगों की ज़िम्मेदारी, लॉकडाउन में जो फंसे हैं उनकी भी लगाई गई ड्यूटी appeared first on TRP – The Rural Press.

https://theruralpress.in/dead-teachers-got-responsibility-for-people-coming-from-infected-states-duty-of-those-who-are-trapped-in-lockdown/