Get all latest Chhattisgarh Hindi News in one Place. अगर आप छत्तीसगढ़ के सभी न्यूज़ को एक ही जगह पर पढ़ना चाहते है तो www.timesofchhattisgarh.com की वेबसाइट खोलिए.

समाचार लोड हो रहा है, कृपया प्रतीक्षा करें...
Disclaimer : timesofchhattisgarh.com का इस लेख के प्रकाशक के साथ ना कोई संबंध है और ना ही कोई समर्थन.
हमारे वेबसाइट पोर्टल की सामग्री केवल सूचना के उद्देश्यों के लिए है और किसी भी जानकारी की सटीकता, पर्याप्तता या पूर्णता की गारंटी नहीं देता है। किसी भी त्रुटि या चूक के लिए या किसी भी टिप्पणी, प्रतिक्रिया और विज्ञापनों के लिए जिम्मेदार नहीं हैं।
ऑक्सीजन की सप्लाई निर्बाध और सुचारू रूप से सुनिश्चित करने का निर्देश

नई दिल्ली 22 अप्रैल।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अधिकारियों को विभिन्‍न राज्‍यों को ऑक्‍सीजन की सप्‍लाई निर्बाध और सुचारू रूप से सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है।

श्री मोदी ने देशभर में रोगियों के इलाज में काम आने वाली आक्‍सीजन की उपलब्‍धता की आज उच्‍च स्‍तरीय बैठक में समीक्षा करते हुए ऑक्‍सीजन की उपलब्‍धता बढ़ाने के तौर-तरीकों पर भी विचार विमर्श किया गया। उन्‍होंने सप्‍लाई में किसी तरह का व्‍यवधान उत्‍पन्‍न होने पर स्‍थानीय प्रशासन की जिम्‍मेदारी तय करने की आवश्‍यकता पर भी जोर दिया।मंत्रालयों को निर्देश दिये गए कि वे ऑक्‍सीजन का उत्‍पादन और आपूर्ति बढाने के विभिन्‍न तौर तरीकों को पता लगाएं।

उऩ्होने राज्‍यों को तेजी से ऑक्‍सीजन का परिवहन सुनिश्चित करने की आवश्‍यकता पर जोर दिया। राज्‍यों से गैस के जमाखोरों पर कडी कार्रवाई करने को भी कहा गया। आक्‍सीजन का उत्‍पादन बढाने के साथ साथ इसके तेजी से वितरण और अस्‍पतालों में इसके उपयोग के नये तरीकों का पता लगाने की जरूरत है। उन्‍होंने कहा कि राज्‍यों की ऑक्‍सीजन की मांग का पता लगाने और उसके अनुसार पर्याप्‍त मात्रा में आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए तालमेल के साथ काम करने की आवश्‍यकता पर बल दिया गया।

इससे पहले अधिकारियों ने प्रधानमंत्री को राज्‍यों को ऑक्‍सीजन की सप्‍लाई में लगातार बढोतरी के बारे में जानकारी दी। बीस राज्‍यों की रोजाना छह हजार 785 मीट्रिक टन की मौजूदा मांग के मुकाबले भारत सरकार ने कल उन्‍हें छह हजार 822 मीट्रिक टन ऑक्‍सीजन गैस प्रतिदिन आवंटित करने का फैसला किया है।

https://www.cgnews.in/2021/04/22/%E0%A4%91%E0%A4%95%E0%A5%8D%E0%A4%B8%E0%A5%80%E0%A4%9C%E0%A4%A8-%E0%A4%95%E0%A5%80-%E0%A4%B8%E0%A4%AA%E0%A5%8D%E0%A4%B2%E0%A4%BE%E0%A4%88-%E0%A4%A8%E0%A4%BF%E0%A4%B0%E0%A5%8D%E0%A4%AC%E0%A4%BE/