Get all latest Chhattisgarh Hindi News in one Place. अगर आप छत्तीसगढ़ के सभी न्यूज़ को एक ही जगह पर पढ़ना चाहते है तो www.timesofchhattisgarh.com की वेबसाइट खोलिए.

समाचार लोड हो रहा है, कृपया प्रतीक्षा करें...
Disclaimer : timesofchhattisgarh.com का इस लेख के प्रकाशक के साथ ना कोई संबंध है और ना ही कोई समर्थन.
हमारे वेबसाइट पोर्टल की सामग्री केवल सूचना के उद्देश्यों के लिए है और किसी भी जानकारी की सटीकता, पर्याप्तता या पूर्णता की गारंटी नहीं देता है। किसी भी त्रुटि या चूक के लिए या किसी भी टिप्पणी, प्रतिक्रिया और विज्ञापनों के लिए जिम्मेदार नहीं हैं।
गूगल ने शानदार Doodle बनाकर याद किया ट्रांसजेंडर एक्टिविस्ट Marsha P. Johnson को, जानें कौन थे

नेसमाल डेस्क। गूगल (Google) ने Marsha P. Johnson को याद करते हुए आज फिर शानदार Doodle बनाया है। गूगल (Google) आज LGBTQ+ राइट एक्टिविस्ट, परफॉर्मर, और सेल्फ आइंडेटिफाइड ड्रैग क्वीन Marsha P. Johnson को याद कर रहा है। गूगल ने Marsha P. Johnson की याद में आज यानी 30 जून 2020 को एक शानदार डूडल तैयार किया है। Marsha P. Johnson एक वकील भी थे जो समलैंगिक अधिकारों के लिए लड़े थे। गूगल ने अपने डूडल में Marsha P. Johnson की एक एनिमेटिड फोटो लगाई है जो काफी शानदार लग रही है। इसमें उन्होंने अपने सर में फूल भी लगाए हुए हैं। ऐसा कहा जाता है कि उन्हें अपने सिर पर फूल लगाना पसंद था। इस डूडल पर क्लिक करने पर आपको उनसे संबंधित कई जानकारी मिल जाएगी।

Marsha P. Johnson ने एड्स जैसी बीमारी से लड़ने के लिए किए थे सराहनीय काम

साथ ही उन्होंने एड्स जैसी खतरनाक बीमारी से लड़ने के लिए भी कई सराहनीय काम किए। वे एक एड्स कार्यकर्ता भी थे। दरअसल पहले एड्स मरीजों को हीन भावना से देखा जाता था। ऐसे में Marsha P. Johnson ने लोगों को यह बताने का काम किया कि हमें एड्स मरीजों को हीन भावना से नहीं देखना चाहिए और यह ऐसी बीमारी से जो किसी को भी हो सकती है। Also Read – Earth Day 2020: गूगल ने Earth Day की 50वीं एनिवर्सरी पर बनाया डूडल

आज यानी 30 जून 2020 को Marsha P. Johnson को मरणोपरांत न्यूयॉर्क सिटी प्राइड मार्च में भव्य मार्शल के रूप में सम्मानित किया गया था। Marsha P. Johnson का जन्म 24 अगस्त 1945 को एलिजाबेथ, न्यू जर्सी में हुआ था। ऐसा कहा जाता है कि Marsha P. Johnson खुद एक समलैंगिक थे। इस दौरान उन्होंने महसूस किया कि समाज उन्हें एक अलग नजर से देखता है, इसलिए वह खुद भी अपने अधिकारों के लिए लड़े और अंत में उनके योगदान को आज भी याद किया जाता है। Also Read – गूगल ने कोरोवायरस के दौरान डूडल (Doodle) बनाकर फूड वर्कर्स को किया थैंक्यू

Marsha P. Johnson का जन्म Malcolm Michaels Jr के घर हुआ था। इनकी माता का नाम अलबर्टा क्लिबोर्न था। Marsha P. Johnson एक मध्यम परिवार से ताल्लुक रखते थे। इनके पिता एक फैक्ट्री में काम करते थे। 1963 में Marsha P. Johnson हाई स्कूल पास करने के बाद वह न्यू यॉर्क ग्रीनविज विलेज शिफ्ट हो गए थे, जो एलजीबीटीडी + लोगों के लिए एक सांस्कृतिक केंद्र है।

Chhattisgarh से जुड़ी Hindi Newsके अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें 

Facebookपर Like करें, Twitterपर Follow करें  और Youtube  पर हमें subscribe करें।

The post गूगल ने शानदार Doodle बनाकर याद किया ट्रांसजेंडर एक्टिविस्ट Marsha P. Johnson को, जानें कौन थे appeared first on TRP – The Rural Press.

http://theruralpress.in/google-remembers-transgender-activist-marsha-p-johnson-by-creating-a-fantastic-doodle/