Get all latest Chhattisgarh Hindi News in one Place. अगर आप छत्तीसगढ़ के सभी न्यूज़ को एक ही जगह पर पढ़ना चाहते है तो www.timesofchhattisgarh.com की वेबसाइट खोलिए.

समाचार लोड हो रहा है, कृपया प्रतीक्षा करें...
Disclaimer : timesofchhattisgarh.com का इस लेख के प्रकाशक के साथ ना कोई संबंध है और ना ही कोई समर्थन.
हमारे वेबसाइट पोर्टल की सामग्री केवल सूचना के उद्देश्यों के लिए है और किसी भी जानकारी की सटीकता, पर्याप्तता या पूर्णता की गारंटी नहीं देता है। किसी भी त्रुटि या चूक के लिए या किसी भी टिप्पणी, प्रतिक्रिया और विज्ञापनों के लिए जिम्मेदार नहीं हैं।
फेडरेशन ने वेतन कटौती आदेश की जलाई प्रतियां

केशकाल। केशकाल रावण भांटा मे अधिकारी कर्मचारी फेडरेशन के प्रमुख पदाधिकारियों सहित कार्यकर्ता आम कर्मचारीयो ने वेतन कटौती के आदेश की प्रतियां जलाकर अपना रोष प्रकट किया फेडरेशन के पदाधिकारियों ने बताया कि 5 दिन के आंदोलन के दौरान आंदोलन में शामिल हुए अधिकारी कर्मचारियों की वेतन कटौती शासन का दमनात्मक कदम है जो स्वस्थ लोकतंत्र के लिए शुभ संदेश नहीं है इसी के चलते आज शासन की ओर से जारी दमनात्मक आदेश की प्रतियां ब्लाक मुख्यालय जलाकर सरकार के खिलाफ एवं अपनी मांगों के समर्थन में मुहिम को तेज किया गया है।22 अगस्त को कर्मचारी अधिकारी पूरी ताकत के साथ अनिश्चितकालीन हड़ताल में शामिल होंगे

प्रेस नोट के माध्यम से जानकारी देते हुए प्रांतीय पदाधिकारी केदार जैन ने बताया कि छत्तीसगढ़ कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन के प्रांतीय आह्वान पर 25 जुलाई से 29 जुलाई तक पांच दिवसीय 2 सूत्रीय मांग- केंद्रीय कर्मचारियों के समान 34% महंगाई भत्ता एवं सातवें वेतनमान के अनुरूप गृह भाड़ा भत्ता की मांगों के समर्थन में निश्चितकालीन हड़ताल किया गया था। 29 जुलाई को पांच दिवसीय आंदोलन के अंतिम दिवस छत्तीसगढ़ प्रदेश के कार्यरत कर्मचारी अधिकारियों की उपस्थिति, जनसैलाब जो रैली की शक्ल में जिला स्तरीय धरना स्थल में दिखाई पड़ा ।

जिससे सरकार तिलमिला गई, कर्मचारी अधिकारियों की मांगों पर सरकार द्वारा प्रांतीय नेतृत्व से किसी प्रकार की संवाद स्थापित करने के बजाए 29 जुलाई को ही एक काला एवं दमनात्मक आदेश जिसमें 25 जुलाई से 29 जुलाई तक हड़ताल में शामिल कर्मचारी अधिकारियों की वेतन कटौती एवं ब्रेक इन सर्विस संबंधी आदेश प्रसारित कर दिया गया। शासन द्वारा जारी आदेश का केवल एक ही उद्देश्य है कर्मचारी अधिकारियों की एकजुटता एवं एकता को अस्थिर करना, लेकिन सरकार को समझना होगा कि छत्तीसगढ़ प्रदेश में कार्यरत कर्मचारी अधिकारियों की मौलिक अधिकारों का संघर्ष है।

छत्तीसगढ़ प्रदेश संयुक्त शिक्षक संघ के प्रांताध्यक्ष केदार जैन ने बताया कि DA और HRA की मांग किसी एक विभाग या किसी एक वर्ग की लड़ाई नहीं जिसे दमनात्मक आदेश से कर्मचारी अधिकारियों की एकता एवं अखंडता को अस्थिर कर दे।प्रेस नोट में बताया गया कि सरकार की मानसिकता कर्मचारी विरोधी है, अब प्रदेश के 5 लाख कर्मचारी-अधिकारी अपने मौलिक अधिकारों का सम्मान करते हुए विरोध प्रकट करेंगे शासन जितनी संवेदनशीलता दमनात्मक आदेश प्रसारित करने में दिखाई उतनी संवेदनशीलता मांग पूरा करने में दिखाती तो छत्तीसगड़ के कर्मचारी-अधिकारी आमने-सामने नहीं होते,,शासन ने जो दमनात्मक आदेश प्रसारित किया है उससे फेडरेशन डरने वाला नहीं है बल्कि दोगुने ऊर्जा एवम ताकत के साथ डटे रहेंगे।

फेडरेशन के ब्लॉक संयोजक प्रकाश साहू ने कहा 15 अगस्त तक शासन हमारे मांग के संदर्भ में सकारात्मक निर्णय अगर नही लेती है तो अनिश्चितकालीन आंदोलन की जिम्मेदारी सरकार की होगी इस अवसर पर ब्लाक संयोजक (द्वय)प्रकाश साहू,एवम उर्वशी कुलदीप,आंदोलन प्रभारी माखन कोमरा,कोषाध्यक्ष कौशल नेताम,मीडिया प्रभारीद्वय रोशन हिरवानी,सप्तमी भद्र,सचिव राजेश उइके,,राजस्व विभाग ईश्वर नाग,उद्यान विभाग चन्द्रेश ध्रुव,कृषि विभाग गुलशन गांवरे,खाद्य विभाग गुलशन ठाकुर,पंचायत विभाग रमेश नेताम,सोनाराम यादव,शिक्षा विभाग मनोज दुबे(abeo),बलराम नाग,शोएब अली,स्वास्थ्य विभाग राजेन्द्र राणा,प्रेम पांडेय,उमेश जयसवाल,वन विभाग,इंद्र प्रकाश, समा राम नेताम,रतिराम नेताम,चन्द्रकिशोर नाग,देवेंद्र साहू,अशोक पांडे,शेष मरकाम,सतीश सलाम,सुजीत मरकाम,नारद नेताम,उमा राणा, भुनेश्वर यादव,बनिया कुंजाम सहित सैंकड़ो की संख्या में शामिल रहे।

The post फेडरेशन ने वेतन कटौती आदेश की जलाई प्रतियां appeared first on CGWALL-Chhattisgarh News.

https://www.cgwall.com/federation-burns-copies-of-pay-cut-order/