Get all latest Chhattisgarh Hindi News in one Place. अगर आप छत्तीसगढ़ के सभी न्यूज़ को एक ही जगह पर पढ़ना चाहते है तो www.timesofchhattisgarh.com की वेबसाइट खोलिए.

समाचार लोड हो रहा है, कृपया प्रतीक्षा करें...
Disclaimer : timesofchhattisgarh.com का इस लेख के प्रकाशक के साथ ना कोई संबंध है और ना ही कोई समर्थन.
हमारे वेबसाइट पोर्टल की सामग्री केवल सूचना के उद्देश्यों के लिए है और किसी भी जानकारी की सटीकता, पर्याप्तता या पूर्णता की गारंटी नहीं देता है। किसी भी त्रुटि या चूक के लिए या किसी भी टिप्पणी, प्रतिक्रिया और विज्ञापनों के लिए जिम्मेदार नहीं हैं।
Tips: बच्चों के Online Classes के लिए जरूर रखें इन बातों का ध्यान, पढ़िए

(Tips) कोरोना महामारी के खतरे को देखते हुए बच्चों के ऑनलाइन क्लासेस शुरू हो गये हैं। पिछले कई महीनों से बच्चों के स्कूल बंद हैं। हालांकि, पिछले कुछ दिनों से स्कूल और ट्यूशन टीचर द्वरा ऑनलाइन क्लास स्टार्ट हो गई है। बच्चे घर पर अपने पैरेंट्स के मोबाइल, लैपटॉप या फिर डेस्कटॉप पर पढ़ाई कर रहे हैं।

(Tips) बच्चों के ऑनलाइन क्लासेस को सही बनाने के लिए पैरेंट्स को भी कुछ बातों पर ध्यान देने की ज़रूरत है। बच्चों को ऑनलाइन क्लासेस में कोई दिक्कर नहीं आए इसके लिए हमारे इन टिप्स से आईडिया ले सकते हैं।

0-ये टिप्स जरूर रखे याद

(Tips) ऑनलाइन क्लास के लिए सबसे ज़रूरी है कि बच्चे लिए एक ऐसा रूम या फिर जगह तैयार करे जहां वो शांति से पढ़ सके। कभी-कभी क्या होता है कि बच्चे को हम ऐसी जगह क्लास के लिए बैठा देते हैं जहां घर के कई सदस्य आते-जाते रहते हैं। इससे बच्चे का ध्यान भटक जाता है और फिर पढ़ाई में पीछे रह जाते हैं। इसलिए सबसे पहले बच्चे की ऑनलाइन क्लासेस के लिए एक शांत जगह का चुनाव ज़रूर करें।

आजकल लगभग एक क्लास 30 से 45 मिनट की होती है। 30 से 45 मिनट के क्लास के बाद दस मिनट का ब्रेक ज़रूर होता है। इस ब्रेक के दौरान बच्चे से जाकर ज़रूर मिले और उसे प्रोत्साहित ज़रूर करें। उनसे ये भी पूछे कि कुछ चाहिए तो नहीं या कोई दिक्कत तो नहीं? सब ठीक है ना? ऐसे सवाल पूछने से बच्चे में सकारात्मक सोच बनी रहती है।

Corona Update: देश में पिछले 24 घंटे में 97,894 नए केस,1,132 संक्रमितों की मौत, पढ़िए स्वास्थ्य मंत्रालय की रिपोर्ट

क्लास स्टार्ट होने से पहले ही मोबाइल, लैपटॉप या फिर डेस्कटॉप में जो नेट चल रहा है वो ठीक से काम कर रहा है की नहीं, ये ज़रूर चेक कर लें। कई बार नेट प्रॉब्लम बच्चे की पढ़ाई में रुकावट की वजह बन जाती है। (ऐसे स्मार्टफोन की बढ़ा सकती हैं स्पीड) ये भी ध्यान दें कि जिस जगह बच्चा क्लास ले रहा है उस जगह नेटवर्क या नेट चलने में कोई दिक्कत तो नहीं हो रही।

अच्छा! ये हमने बहुत बार देखा है कि बच्चे को कुछ टाइम मिला नहीं कि मोबाइल, लैपटॉप या डेस्कटॉप के दूसरे पेज में वीडियो गेम, सोशल मीडिया या कुछ और देखने या खेलने लगते हैं। क्लास के दौरान इन बातों का भी ध्यान रखना बेहद ज़रूरी है।

https://khabar36.com/tips-keep-these-things-in-mind-for-childrens-online-classes/