Get all latest Chhattisgarh Hindi News in one Place. अगर आप छत्तीसगढ़ के सभी न्यूज़ को एक ही जगह पर पढ़ना चाहते है तो www.timesofchhattisgarh.com की वेबसाइट खोलिए.

समाचार लोड हो रहा है, कृपया प्रतीक्षा करें...
Disclaimer : timesofchhattisgarh.com का इस लेख के प्रकाशक के साथ ना कोई संबंध है और ना ही कोई समर्थन.
हमारे वेबसाइट पोर्टल की सामग्री केवल सूचना के उद्देश्यों के लिए है और किसी भी जानकारी की सटीकता, पर्याप्तता या पूर्णता की गारंटी नहीं देता है। किसी भी त्रुटि या चूक के लिए या किसी भी टिप्पणी, प्रतिक्रिया और विज्ञापनों के लिए जिम्मेदार नहीं हैं।
Ambikapur: 4 घंटे और 4 नवजातों की मौत, मेडिकल कॉलेज अस्पताल में परिजनों ने किया हंगामा, स्वास्थ्य मंत्री दिल्ली से सीधे अंबिकापुर के लिए रवाना

शिव शंकर साहनी@अंबिकापुर। (Ambikapur) सरगुजा संभाग के सबसे बड़े मेडिकल कॉलेज अस्पताल अंबिकापुर में अव्यवस्थाओं का आलम देखने को मिल रहा है।  मेडिकल कॉलेज अस्पताल के एमसीएच बिल्डिंग बच्चा वार्ड में एक ही दिन में 4 नवजात की मौत से हड़कंप मचा हुआ है। जिसके बाद अस्पताल का निरीक्षण विपक्षी दल भाजपा और सत्तासीन दल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के द्वारा किया जा रहा है।

(Ambikapur) 16 अक्टूबर को मेडिकल कॉलेज अस्पताल के मातृ शिशु वार्ड में 4 नवजात की मौत के बाद परिजनों ने प्रबंधक पर लापरवाही का आरोप लगाकर हंगामा शुरू कर दिया था। देर सुबह परिजनों के द्वारा अस्पताल के सामने चक्का जाम भी किया गया था। परिजनों के द्वारा अस्पताल प्रबंधक सहित अस्पताल स्टाप पर कई गंभीर आरोप लगाए थे। इस बात की सूचना जैसे ही विपक्षी दल भाजपा को लगी बीते दिन देर शाम भाजपा का एक प्रतिनिधिमंडल निरीक्षण करने मेडिकल कॉलेज अस्पताल पहुंचा। आज कांग्रेस का एक प्रतिनिधि मंडल मेडिकल कॉलेज अस्पताल कर पूरे मामले की जानकारी ली।

Income Tax: आयकर छापेमारी में 1.95 करोड़ की नकदी जब्त, इन सात जगहों पर चलाया गया था तलाशी अभियान

श्रम कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष सहित प्रतिनिधिमंडल पहुंचा मेडिकल कॉलेज अस्पताल

(Ambikapur) श्रम कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष शफी अहमद व पादप बोर्ड के अध्यक्ष बालकृष्ण पाठक सहित प्रतिनिधिमंडल मेडिकल कॉलेज एमसीएच बिल्डिंग मातृ शिशु वार्ड पहुंचा और पूरे मामले की जानकारी ली गई कांग्रेस के प्रतिनिधि मंडल ने अस्पताल का निरीक्षण कर आईसीयू वार्ड का भी मुआयना किया। श्रम कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष शफी अहमद ने बताया जिन चार नवजात बच्चों की मौत हुई है प्रथम दृष्टा दूसरे जिलों से और बहुत देर से आने वाले बच्चे शामिल है। साथ ही बताया कि जो अनमेच्योर बच्चे है। जिनकी मौत हुई है।  इसके साथ ही श्रम कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष सफी अहमद ने अस्पताल प्रबंधक का बचाव करते हुए अस्पताल की व्यवस्थाओं को दुरुस्त बताया है।

स्वास्थ्य मंत्री दिल्ली से अंबिकापुर के लिए रवाना

प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव दिल्ली दौरे पर है वही स्वास्थ्य मंत्री के गृह ग्राम अंबिकापुर के मेडिकल कॉलेज अस्पताल के मातृ शिशु वार्ड में 4 बच्चों की मौत की सूचना जैसे ही प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव को मिली जीत के बाद स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव दिल्ली के सारे कार्यक्रमों को छोड़कर चार्टड प्लेन से अंबिकापुर के लिए रवाना हो चुके हैं। देर शाम स्वास्थ्य मंत्री अंबिकापुर शहर के मां महामाया एयरपोर्ट दरिमा पहुंचेंगे। जिसके बाद स्वास्थ्य मंत्री मेडिकल कॉलेज अस्पताल पहुंचकर बच्चों की मौत के मामले में जानकारी एकत्रित करेंगे।

बहरहाल परिजनों द्वारा लगाए गए आरोप सही है या नहीं यह आने वाला समय ही बताएगा और सत्तापक्ष कांग्रेस और विपक्षी दल भाजपा के द्वारा निरीक्षण के क्या तथ्य सामने आएंगे यह देखने वाली बात होगी।  मगर मेडिकल कॉलेज अस्पताल में 4 नवजात की हुई मौत से अंदाजा लगाया जा सकता है अस्पताल प्रबंधक के द्वारा किस प्रकार की व्यवस्था की जा रही है

https://www.khabar36.com/ambikapur-4-hours-and-4-newborns-died/