Get all latest Chhattisgarh Hindi News in one Place. अगर आप छत्तीसगढ़ के सभी न्यूज़ को एक ही जगह पर पढ़ना चाहते है तो www.timesofchhattisgarh.com की वेबसाइट खोलिए.

समाचार लोड हो रहा है, कृपया प्रतीक्षा करें...
Disclaimer : timesofchhattisgarh.com का इस लेख के प्रकाशक के साथ ना कोई संबंध है और ना ही कोई समर्थन.
हमारे वेबसाइट पोर्टल की सामग्री केवल सूचना के उद्देश्यों के लिए है और किसी भी जानकारी की सटीकता, पर्याप्तता या पूर्णता की गारंटी नहीं देता है। किसी भी त्रुटि या चूक के लिए या किसी भी टिप्पणी, प्रतिक्रिया और विज्ञापनों के लिए जिम्मेदार नहीं हैं।
Kanker: क्या बच्चों का नहीं है ध्यान! 3 से 4 साल बीते, मगर स्कूल का अधूरा निर्माण, छात्र युवा मंच ने उठाया कदम

देवाशीष विश्वास@ कांकेर। (Kanker) जयपुर पंचायत के आश्रित ग्राम पीव्ही नं. 51 मे सालों से बन रहे प्राथमिक स्कूल भवन को जल्द पूरा करने के लिए छात्र युवा मंच गोण्डाहूर के संकाय ने पंचायत के सरपंच और सचिव के नाम ज्ञापन सौंपा। (Kanker)  सरपंच से स्कूल भवन का कार्य जल्द से जल्द पूरा करने का मांग की है।

Bilaspur: पुरानी रंजिश को लेकर शुरू हुआ विवाद, फिर बरसाई ताबड़तोड़ गोलियां. इलाज के दौरान युवक ने अस्पताल में तोड़ा दम

पंचायत भवन की स्थिति भी खराब

(Kanker) बता दें कि जयपुर पंचायत के पूर्व सरपंच के कार्यकाल से ग्राम पीव्ही 51 के प्राथमिक स्कूल भवन निर्माण कार्य चल रहा है। मगर 3 से 4 साल बीत जाने के बाद भी अभी तक स्कूल भवन बनके तैयार नहीं हुआ। पुराने स्कूल भवन की हालत जर्जर हो चुकी है। जिस कारण से स्कूल के बच्चे पंचायत भावन मे ही पढ़ाई करते है। मगर पंचायत भवन की स्थिति भी खराब है। पंचायत की सामान भी भवन मे रखा हुआ है। ऐसे स्थिति मे बच्चों को पढ़ने और शिक्षकों को पढ़ाने मे बहुत दिक्कतो का सामना करना पड़ता है।

Crime: मोबाइल दिखाने के नाम पर 11 साल की बच्ची से रेप, अब पीड़िता ने दिया बेटे को जन्म, पढ़िए पूरी खबर

स्कूल सीमा क्षेत्र की दीवार भी टूटी-फूटी

छात्र युवा मंच गोण्डाहूर संकाय के प्रमुख प्रसंजीत सरकार और अध्यक्ष निलकमल बड़ाई का कहना है कि स्कूल भवन की हालत तो खराब है। साथ में स्कूल की सीमा क्षेत्र की दीवार भी टूटी फूटी है। स्कूल का शौचालय भी जर्जर हो चुका है। शौचालय की दीवार है तो दरवाजा नहीं है, दरवाजा है तो छत नहीं है।

कोरोना संक्रमण के चलते स्कूल बंद

इस साल कोरोना संक्रमण के चलते स्कूल संस्थान बंद है। जिस वजह से स्कूली बच्चे स्कूल नहीं आ रहे हैं। अगर इस साल स्कूल भवन बनकर तैयार नहीं होगा। जब अगले सत्र में स्कूल खुलेंगे तब स्कूली बच्चों को पढ़ाई के लिए स्कूल की भवन के जगह पंचायत भवन मे ही बैठने के लिए मजबूर होना होगा. वहीं टूटे और गंदे शौचालय में शौच जाने के लिए बच्चे मजबूर होंगे।

छात्र युवा मंच ने सौंपा ज्ञापन

अगर स्कूल का कार्य जल्द पूरा हो जाता है। फिर बच्चों को पढ़ने के लिए अच्छा स्कूल भवन मिल पाएंगा। शौच के लिए साफ शौचालय भी मिल पायेगा। इस उद्देश्य से छात्र युवा मंच गोण्डाहूर के संकाय ने सरपंच सचिव के नाम ज्ञापन सौंपा।

वही जल्द से जल्द स्कूल भवन निर्माण कार्य पूर्ण करने का आश्वासन सरपंच ने छात्र युवा मंच गोण्डाहूर के संकाय को दिया है सरपंच ने बताया कि स्कूल भवन निर्माण कार्य पिछले पंचायत समिति ने शरू कराया था जो अधूरा पड़ा है कोरोना संक्रमण की बजय से अधूरा निर्माण कार्य को सम्पूर्ण नहीं करा पाया था अभी बोहत जल्द निर्माण कार्य शरू किया जाएगा अगले क्षत्र से स्कूली बच्चों को नया भवन में ही पढ़ाया जाएगा।

https://khabar36.com/kanker-what-children-dont-care-about/